Polyhouse Farming क्या है, कैसे करें? (पूरी जानकारी)

आज इस लेख में हम polyhouse farming के बारे में हिंदी में बात करने वाले हैं और polyhouse farming के बारे में पूरी जानकारी यहां हम प्राप्त करेंगे।

polyhouse farming करने के आपको बहुत सारे फायदे हो सकते हैं और इससे आप अच्छा खासा मुनाफा भी कमा सकते हैं आप अपने खेत में किसी भी जलवायु में polyhouse farming करके दूसरी जलवायु वाली सब्जियां प्राप्त कर सकते हैं।

मौसम की प्रतिकूल परिस्थितियों के कारण खेती पर सीधा प्रभाव पड़ता है और कई बार किसान की फसल खराब हो जाती है।

इस से बचने के लिए polyhouse farming की तकनीक बनाई गई। जिसके मदद से किसान मौसम के प्रतिकूल फसल का उत्पादन कर सकता है और इस तकनीक से ऑफ़ Seasion में भी किसान सब्जियों और फलों की खेती आसानी से कर सकता है।

बहुत बार यह देखने को मिलता है की बिन मौसम बरसात की वजह से किसान की फसल खराब हो गई या अन्य किन्ही कारणों के कारण फसल नहीं हुई, तथा प्राकृतिक कारणों से किसान की फसल खराब होने से उसे आर्थिक कठिनाइयों से गुजरना पड़ता है।

इन कारणों का निवारण polyhouse farming बहुत ही अच्छे तरीके से कर सकता है।

यह तकनीक मौसम के प्रतिकूल सब्जियों तथा फलों का उत्पादन करने के लिए एक असरदार तकनीक साबित हुई है, इस तकनीक की मदद से लाखों किसान आज के समय में अच्छा मुनाफा कमा रहे है और इसका प्रशिक्षण भी दूसरे किसानों को दे रहे हैं।

Polyhouse farming में आप अपनी फसल का उत्पादन करने के साथ-साथ कुछ व्यापारिक कार्य भी कर सकते हैं जैसे आप polyhouse में पौधों की नर्सरी बना सकते हैं तथा फूलों का व्यापार कर सकते हैं।

इसके साथ आप सब्जियों का व्यापार भी Polyhouse की मदद से कर सकते है।

Polyhouse farming क्या है

polyhouse farming एक ऐसी तकनीक है जिसकी मदद से किसान ऑफ मौसम की फसलें प्राप्त कर सकते हैं और इसके लिए हमें मौसम का इंतजार नहीं करना पड़ता तथा किसान साल भर सब्जियां तथा अन्य व्यापारिक फसलों का उत्पादन कर सकता है।

पहले के समय में किसानों को कोई फसल उगाने के लिए उसके मौसम का इंतजार करना पड़ता था तथा इसके बाद भी कई कारणों से किसान की फसल बर्बाद होने का खतरा रहता था जिसमें मुख्य कारण वर्षा अधिक होना, या वर्षा ना होना होते थे।

परंतु polyhouse farming की तकनीक से किसान किसी भी मौसम में कोई भी फसल उगा सकते हैं तथा उससे अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं।

polyhouse farming की तकनीक एक बहुत ही कारगर तकनीक है जिसकी मदद से आज हजारों किसान farming कर रहे हैं तथा लोगों को प्रशिक्षण भी दे रहे हैं।

Polyhouse का निर्माण

polyhouse लोहे की पाइपों या बांस की लकड़ी के साथ polythene का ऐसा एक घर होता है जिसमें फसलों के लिए अनुकूल वातावरण तैयार किया जाता है इस polyhouse में किसान खेती बाड़ी से जुड़े काम कर सकता है, और फसलों के लिए वातावरण अनुकूल होने से इसमें आप किसी भी वातावरण की फसल उगा सकते हैं।

मुख्य रूप से जब आप polyhouse बनाने जा रहे हैं तब आपको polyhouse के लिए एक सही जगह का निर्धारण करना होता है जो जगह जमीन से उचित ऊंचाई पर हो जिससे जल निकासी की उचित व्यवस्था हो सके, और polyhouse में आने जाने और सामान ले जाने के लिए उचित रास्तों की व्यवस्था हो, तथा polyhouse में सिंचाई के लिए भी कोई समस्या ना आये।

polyhouse में ज्यादातर drip सिंचाई के माध्यम से सिंचाई की जाती है क्योंकि ड्रिप सिंचाई से फसलों को कम पानी में अच्छे से उगाया जा सकता है और सब्जी एवं फूलों की खेती में drip सिंचाई बहुत थी कारगर होती है।

drip सिंचाई की मदद से फसलों में सही मात्रा में उर्वरक डाला जा सकता है।

Polyhouse farming के प्रकार

मुख्य रूप से polyhouse दो प्रकार से तैयार किया जाता है जिसमें से पहला लोहे की पाइपों द्वारा तैयार किया जाता है तथा दूसरा बांस की लकड़ी की मदद से तैयार किया जाता है।

लकड़ी द्वारा निर्मित Polyhouse

किसी polyhouse को तैयार करने में आपको शुरू में थोड़ा सा पैसा लगाना पड़ता है और इसे आप कई सालों तक पैसा कमा सकते हैं अगर आप शुरू में कुछ कम पैसा लगाना चाहते हैं तो आप बांस की लकड़ी का उपयोग कर सकते हैं।

बांस की लकड़ी की मदद से आप एक structure बना सकते हैं और उसके बाद उस पर पॉलिथीन चढ़ाया जाता है, इस polyhouse में काफी कम उपकरणों का उपयोग किया जाता है इसी कारण इसे natural ventilator polyhouse कहा जाता है।

लोहे की पाइप द्वारा निर्मित Polyhouse

बांस की लकड़ी के द्वारा बनाया गया polyhouse सस्ता तो होता है लेकिन लोहे की पाइप द्वारा बनाया गया polyhouse ज्यादा समय तक चलता है और इसमें लकड़ी के मुकाबले थोड़ा ज्यादा खर्च आता है इस polyhouse का पूरा ढांचा लोहे द्वारा बनाया गया होता है और इसमें कई उपकरणों का प्रयोग होता है जिससे कि वातावरण में तापमान, आर्द्रता, इत्यादि को नियंत्रित कर सके।

Polyhouse farming ke Labh

अगर आप पॉलीहाउस से खेती करते हैं तो आपको इसके बहुत सारे लाभ हो सकते हैं जिसमें मुख्य रुप से यही लाभ है –

⮞ आप पूरे वर्ष में किसी भी सब्जी का उत्पादन कर सकते हैं और अन्य व्यवसायिक कार्य जैसे पुष्प उत्पादन, पौधारोपण, इत्यादि भी कर सकते हैं।

⮞ Polyhouse में फसल लगाने से फसल में लगने वाले कीड़े मकोड़ों और रोगो का प्रकोप कम होता है।

⮞ किसी भी मौसम में आप फलों और सब्जियों को उगा सकते हैं।

⮞ Polyhouse फसलों को आंधी, तूफान, अधिक वर्षा, अधिक तापमान, या न्यूनतम तापमान, ओलावृष्टि, कोहरा, इत्यादि से बचाता है जिससे फसलों में अच्छी पैदावार होती है।

⮞ अगर आपके पास कम भूमि है तो आप polyhouse farming की मदद से ज्यादा मुनाफा कमा सकते हैं।

⮞ Polyhouse का निर्माण करने में एक बार ज्यादा खर्चा लगता है लेकिन आप लगभग 1 साल में ही वह खर्चा मुनाफे के रूप में बदल सकते हैं।

⮞ इस तकनीक से अच्छी गुणवत्ता वाली फसलों को आसानी से उगाया जा सकता है जिनका मूल्य बाजार में अधिक है, तथा उन फसलों को अच्छे मूल्य पर बाजार में बेचा जा सकता है।

Polyhouse निर्माण में खर्च

Polyhouse के निर्माण में कितनी लागत आती है इसके बारे में अगर आप जानना चाहते हैं तो सबसे पहले हम आपको बता दें की – पोली हाउस लगाने में करीब ₹1050 प्रति वर्ग मीटर की दर से निर्माण का खर्चा लगता है।

अगर आप 500 से 1000 वर्ग मीटर Polyhouse का निर्माण करवाते हैं तो लगभग ₹950 प्रति वर्ग मीटर के हिसाब से आपको खर्चा आएगा।

अगर आप 2000 से 4000 प्रति वर्ग मीटर Polyhouse का निर्माण करवाते हैं तो आपको लगभग ₹850 प्रति वर्ग मीटर की दर से खर्चा आएगा।

यह आप पर निर्भर करता है कि आप किस प्रकार का Polyhouse बनाना चाहते हैं अगर आप दो बांस की लकड़ी द्वारा Polyhouse बनाते हैं तो आपका खर्चा कुछ कम होगा और अगर आप लोहे द्वारा पूरा Polyhouse बनाना चाहते हैं तो आपको थोड़ा ज्यादा खर्चा लगाना पड़ेगा लेकिन यह ज्यादा समय तक चलेगा।

Polyhouse बनाने के साथ-साथ इस को maintain करने का भी थोड़ा थोड़ा खर्चा लगता रहता है, लेकिन maintenance के साथ-साथ आप इससे अच्छी कमाई भी करते रहेंगे।

Polyhouse farming में सब्सिडी (Subsidy on Polyhouse)

अगर आप polyhouse लगाने के लिए सरकार से अनुदान या subsidy लेना चाहते हैं तो आपको कम से कम 500 वर्ग मीटर से अधिक क्षेत्र में polyhouse लगाना होगा तभी आप अनुदान ले पाएंगे तथा अनुदान लेने के लिए सरकार द्वारा और कई नियम निर्धारित किए गए हैं जो कि निम्न है –

⮞ Polyhouse पर subsidy लेने के लिए सरकार द्वारा चुने गए फर्म से ही polyhouse सरंचना बनाने का सामान खरीदना होगा इसके बाद ही किसान को subsidy मिलेगी।

⮞ Polyhouse बनाने के लिए किसान किसी भी प्रकार का लोन लेने के लिए बाध्य नहीं है।

⮞ किसान को बैंक ऋण की आवश्यकता होने पर वह सहायक निदेशक उद्यान से एलओसी लेकर ही बैंक से ऋण ले सकता है।

⮞ किसान polyhouse बनाने के लिए subsidy लेना चाहता है तो उसे subsidy polyhouse निर्माण का अनुदान प्रार्थना पत्र तथा इसके साथ-साथ भू स्वामित्व दस्तावेज, सीमांत प्रमाण पत्र, मिट्टी का पानी की जांच की रिपोर्ट, विभाग में जाकर जमा करवानी होगी अथवा वह ऑनलाइन भी जमा करवा सकता है।

⮞ भौतिक सत्यापन के समय निर्माण पत्रावली किसान का polyhouse और उसकी सरंचना के साथ फोटो तथा बिल इत्यादि पर किसान के हस्ताक्षर होने चाहिए जिससे ही subsidy process आगे बढ़ेगा।

⮞ Polyhouse सरंचना का निर्माण पूर्ण होने के 1 महीने के भीतर ही भौतिक सत्यापन करवाना जरूरी है जो भी कृषि अधिकारी एग्रीकल्चर सुपरवाइजर सहायक निदेशक उद्यान या सहायक निदेशक उद्यान के किसी कर्मचारी द्वारा किया जाएगा।

⮞ Subsidy का भुगतान किसान की सहमति से polyhouse बनाने वाली company को किया जाएगा।

Rajasthan me Polyhouse farming

आप राजस्थान में रहते हैं और राजस्थान में polyhouse लगाने पर आपको क्या अनुदान मिलेगा और किस प्रकार यह अनुदान राशि आपको मिलेगी इसके बारे में जानना चाहते हैं या राजस्थान में polyhouse लगाने की क्या प्रक्रिया है और किस प्रकार राजस्थान में आप polyhouse लगाकर उसमें उत्पादन कर सकते हैं इसके बारे में आपको यहां जानकारी मिलेगी।

सबसे पहले हम आपको बता दें कि polyhouse लगाने पर केंद्र सरकार तथा राज्य सरकार दोनों द्वारा ही अलग-अलग रूप से सब्सिडी या अनुदान दिया जाता है और आप दोनों में से किसी एक द्वारा अनुदान प्राप्त कर सकते हैं अगर आप राजस्थान में है तो आपको ऊपर दिए गए सभी बिंदुओं को पढ़कर ध्यान में रखना है क्योंकि इन्हीं बिंदुओं के हिसाब से आपको polyhouse लगाने पर अनुदान मिलेगा।

जैसा कि आपको पता है कि राजस्थान की जलवायु के कारण कुछ ऐसी फसलें और सब्जियां हैं जिन्हें हम राजस्थान में उत्पादित नहीं कर सकते तो आप polyhouse की मदद से उन सब्जियों को राजस्थान में उत्पादित कर सकते हैं और उन्हें बाजार मे अच्छे मूल्य पर बेच सकते हैं।

राजस्थान में आपको polyhouse लगाने पर राज्य सरकार द्वारा सहायता राशि के रूप में अनुदान दिया जाएगा।

polyhouse की मदद से आप पूरे वर्ष सब्जियों का उत्पादन कर सकते हैं तथा फूलों और अन्य व्यवसायिक फसलों का उत्पादन भी आप यहां से कर सकते हैं।

राजस्थान में बहुत सारे ऐसे किसान हैं जो polyhouse लगाकर अच्छा खासा मुनाफा कमा रहे हैं तथा नए किसानो को polyhouse के बारे में प्रशिक्षण भी दे रहे हैं अगर आपके आसपास ऐसे कोई किसान हैं तो आप उनसे जरूर मिले और polyhouse लगाने के बारे में उनसे जानकारी प्राप्त करें तथा polyhouse लगाने के बाद किस प्रकार रखरखाव और कार्य किया जाता है इसके बारे में प्रशिक्षण प्राप्त करें।

निष्कर्ष

हमने यहां पर आज polyhouse farming के बारे में जानना तथा polyhouse किस प्रकार लगाया जाता है और polyhouse लगाने पर सरकार द्वारा हमें क्या अनुदान मिलता है तथा किस प्रकार व अनुदान हमें दिया जाता है इसके बारे में जानकारी प्राप्त की।

राजस्थान में हम किस प्रकार polyhouse लगा सकते हैं और polyhouse लगाने के लिए हमें राज्य सरकार द्वारा किस प्रकार अनुदान मिलेगा इसके बारे में हमने यहां पर विस्तार से चर्चा की।

अगर आपके आस पास ऐसा कोई किसान है जिसने polyhouse लगाया है और वह polyhouse द्वारा उत्पादन करके मुनाफा कमा रहे हैं, तो आप उनसे जरूर मिले और उनसे प्रशिक्षण ले, और हो सके तो उनके द्वारा लिया गया प्रशिक्षण हमें comment करके बताएं ताकि इस website पर आने वाले सभी किसान भाई भी इसके बारे में जान सकें तथा अपने ज्ञान का विस्तार कर सकें।

अगर आपके मन में कोई प्रश्न है क्या आप polyhouse के बारे में कुछ जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप हमें comment करके बताएं हम जल्दी से जल्दी आपके प्रश्न का उत्तर देने का प्रयास करेंगे।

Leave a Comment